Latest News

Showing posts with label Purvanchal News. Show all posts
Showing posts with label Purvanchal News. Show all posts

Thursday, July 18, 2024

सफाई कर्मचारी से कोई अन्य कार्य लिया गया तो डीपीआरओ होंगे जिम्मेदार,निदेशक पंचायती राज के पत्र से मचा हड़कंप

लखनऊ: बताया जाता है कि बहुत से सफाई कर्मचारी जिला मुख्यालय ऑफिस और अधिकारियों के आवास पर तैनात है पंचायती राज विभाग ने इस पर सख्त रुख अपनाया है।


यह भी पढ़े: यूपी में मुफ्त बिजली के लिए अब 31 जुलाई तक कर सकेंगे रजिस्ट्रेशन

बीते दस जुलाई को निदेशक पंचायती राज अटल कुमार राय ने प्रदेश के सभी जिला पंचायतराज अधिकारी को पत्र लिखकर निर्देश दिए हैं सफाई कर्मचारी से अन्य कार्य लिए जा रहे है।

यह भी पढ़े: केंद्र ने नीति आयोग की नई टीम बनाई

इनको अपने तैनाती वाले राजस्व गांव में ही रखे वा सफाई व्यवस्था सुनिश्चित कराएं।यदि वह अन्य कही नियोजित होंगे तो सीधे डीपीआरओ जिम्मेदार होंगे।इसका तत्काल कड़ाई से पालन हो।इस पत्र के आते ही अलग काम में लगे सफाई कर्मचारी में हड़कंप मच गया है। 


सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार सुलतानपुर में करीब 150 सफाई कर्मचारी आफिसों और उच्च अधिकारियों के आवास पर तैनात है जो कभी गांव में गये ही नहीं है।

Wednesday, July 17, 2024

यूपी में मुफ्त बिजली के लिए अब 31 जुलाई तक कर सकेंगे रजिस्ट्रेशन

वाराणसी: उत्तर प्रदेश के किसान अब मुफ्त बिजली योजना का लाभ लेने के लिए 31 जुलाई तक पंजीयन कर सकते हैं। पहले पंजीयन की अंतिम तिथि 15 जुलाई थी। योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को 31 मार्च 2023 तक का पूरा बकाया जमा करना होगा।


यह भी पढ़े: केंद्र ने नीति आयोग की नई टीम बनाई

प्रदेश सरकार की ओर से एक अप्रैल 2023 से किसानों को 140 यूनिट प्रतिकिलोवाट प्रतिमाह मुफ्त बिजली देने की योजना लागू की गई है। इस योजना का लाभ पाने के लिए किसानों को विभाग की वेबसाइट पर 15 जुलाई तक पंजीयन करने के लिए कहा गया था। अब तक प्रदेश के करीब पांच लाख किसान पंजीयन कर चुके हैं। पावर कार्पोरेशन के अध्यक्ष डा. आशीष कुमार गोयल ने बताया कि ज्यादा से ज्यादा किसानों को योजना का लाभ देने के लिए पंजीयन की तिथि बढाई गई है।

यह भी पढ़े: राजा भैया के पिता उदय सिंह हाउस अरेस्ट, भदरी महल छावनी में तब्दील

जमा करना होगा पिछला बकाया

योजना का लाभ पाने के लिए किसानों को 31 मार्च 2023 तक का पूरा बकाया जमा करना होगा। किसान चाहें तो पुराना बकाया एकमुश्त अथवा छह किस्त में जमा कर सकते हैं। जिनका 31 मार्च 2023 तक का पूरा बिल जमा है। वे बिना कोई धनराशि जमा किए पंजीयन कर सकते हैं।

यह भी पढ़े: देश का पहला हाइड्रोजन जलयान पहुंचा वाराणसी

Tuesday, July 16, 2024

राजा भैया के पिता उदय सिंह हाउस अरेस्ट, भदरी महल छावनी में तब्दील

प्रतापगढः  कुंडा के राजा और राजा भैया के पिता उदय प्रताप सिंह को पुलिस ने हाउस अरेस्ट कर लिया है. महल के चारों तरफ फोर्स लगाकर बाहर निकलने पर पाबंदी लगा दी है.  कुंडा विधानसभा से बाहुबली विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया के पिता उदय प्रताप सिंह को पुलिस ने हाउस अरेस्ट कर लिया है. भदरी महल के बाहर पुलिस और पीएसी के जवानों की तैनाती कर दी गई है. साथ ही पुलिस -प्रशासन ने भदरी महल के बाहर नोटिस चस्पा कर दिया है. प्रशासन ने यह कार्रवाई मोहर्रम के चलते किया है. उदय प्रताप सिंह को उनके महल में ही तीन दिनों के लिए नजरबंद कर दिया गया है.


यह भी पढ़े: देश का पहला हाइड्रोजन जलयान पहुंचा वाराणसी

दरअसल, कई साल पहले मुहर्रम के दिन गोली लगने से एक बंदर की मौत हो गई थी. हर साल की तरह बंदर की बरसी मनाने की तैयारी उदय प्रताप सिंह की ओर से की जा रही थी. शनिवार की शाम को मुहर्रम का जुलूस भी निकाला जाना है. ऐसे में शांति व्यवस्था के लिए प्रशासन की ओर से यह कदम उठाया गया है. एसडीएम और सीओ बड़ी संख्या में फोर्स के साथ भदरी कोठी पहुंचे और उदय प्रताप सिंह को नजरबंद कर दिया. इस बार उदय प्रताप को तीन दिनों के लिए नजरबंद किया गया है. गेट पर बड़ी संख्या में फोर्स लगाई गई है.

यह भी पढ़े: चौबेपुर पुलिस ने शादी का झाँसा देकर दुष्कर्म करने वाले अभियुक्त नागेन्द्र कुमार उर्फ करन को किया गिरफ्तार

Monday, July 15, 2024

देश का पहला हाइड्रोजन जलयान पहुंचा वाराणसी

वाराणसी: कोलकाता से चलकर देश का पहला हाइड्रोजन जलयान आज काशी पहुंच गया है। कोच्चि शिपयार्ड से समुद्रीमार्ग के आए शिप ने रामनगर पहुंचकर सफर पूरा किया। शिप को देर शाम नमो घाट पर रोका गया, जहां से देर रात पर्यटन विभाग की निगरानी में रामनगर मल्टी-मॉडल टर्मिनल राल्हपुर ​​​​​​में लंगर डाला।


यह भी पढ़े: चौबेपुर पुलिस ने शादी का झाँसा देकर दुष्कर्म करने वाले अभियुक्त नागेन्द्र कुमार उर्फ करन को किया गिरफ्तार

डबल डेकर कटा मेरान पर्यटक जलयान जून के अंतिम सप्ताह में कोलकाता से चला था। रास्ते में कम पानी होने की वजह से उसे बनारस पहुंचने में समस्या हुई, इसके चलते जलयान को आधा सफर पूरा करने में ज्यादा समय लगा।

यह भी पढ़े: चौबेपुर पुलिस ने नाबालिग से छेड़खानी करने के आरोपी अभियुक्त दीपक को किया गिरफ्तार

देश का पहला हाइड्रोजन जलयान बनारस पहुंच गया, अब इसे पर्यटन की प्रगति में प्रयोग किया जाएगा। कोच्चि शिपयार्ड से समुद्री मार्ग से होते हुए शिप कोलकाता पहुंचा था। वहां से गंगा नदी के रास्ते नवनिर्मित हाइड्रोजन फ्यूल चलित डबल डेकर कटा मेरान पर्यटक जलयान सोमवार दोपहर वाराणसी पहुंच जाएगा। जलयान लाने के लिए वाराणसी से एक सर्वेयर जलयान स्कॉट कर रहा है।

यह भी पढ़े: वाराणसी व चंदौली को जोड़ेगा राजघाट सिग्नेचर ब्रिज, बंगाल तक का सफर होगा आसान

भारतीय अंतरदेशीय जलमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों के अनुसार छह महीने परीक्षण कोचीन शिपयार्ड ही करेगा, वहीं अपने स्तर से हाईड्रोजन गैस की व्यवस्था करेगा। ट्रायल पूरा होने के बाद जलयान को पर्यटन विभाग अपनी निगरानी में संचालित करेगा। किराया और रूट निर्धारण किया जाएगा।

यह भी पढ़े: कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने महादेव पीजी कॉलेज में छात्र-छात्राओं को किया टैबलेट का वितरण

वाराणसी व चंदौली को जोड़ेगा राजघाट सिग्नेचर ब्रिज, बंगाल तक का सफर होगा आसान

वाराणसी: शहर में गंगा पार 1200 करोड़ की लागत से सिग्नेचर ब्रिज बनने वाला है। इसके लिए केंद्र सरकार की मंजूरी भी मिल गयी है। इस ब्रिज की सबसे खास बात यह होगी कि यह वाराणसी और चंदौली को जोड़ेगा। अभी तक वाराणसी और चंदौली को जोड़ने वाला केवल एक ही मालवीय ब्रिज था। जो कि समय के बीतते ही धीरे-धीरे कमजोर हो रहा है। ऐसे में यह ब्रिज बनने से लोगों को काफी सहूलियत होगी। 


यह भी पढ़े: कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने महादेव पीजी कॉलेज में छात्र-छात्राओं को किया टैबलेट का वितरण

आपको बता दें कि पटना के बाद वाराणसी में वनने वाला सिग्नेचर ब्रिज सिक्स लेन का होगा। ट्रेनों के लिए नीचे चार ट्रैक विछाए जाएंगे। इस ट्रैक पर 100 किलोमीटर से ज्यादा रफ्तार से ट्रेनें दौड़ेंगी। नए पुल की सिक्स लेन सड़क वाराणसी से चंदौली, बिहार होते हुए पश्चिम बंगाल तक की राह आसान करेगी। सिग्नेचर ब्रिज जिस काशी स्टेशन से जुड़ेगा, उसके पुनर्विकास के लिए 300 करोड़ रुपये मंजूर हुए है। आईआईटी बीएचयू और रुड़की के साथ ही पुरातत्व विभाग की ओर से अनुमति मिल जाने से निर्माण शुरू करने की तैयारी है। इसको लेकर रेलवे और राज्य सरकार के अधिकारियों के साथ हाईलेवल बैठकों का दौर शुरू हो गया है। सिग्नेचर ब्रिज बनारस में बनने वाले देश में अपने ढंग के पहले पब्लिक ट्रांसपोर्ट प्लेटफार्म के तहत 'परिवहन संगम' का हिस्सा है। परिवहन संगम स्थल पर रोड, रेल, गंगा में फेरी सर्विस व रोप-वे से पब्लिक ट्रांसपोर्ट सुविधा उपलब्ध होगी।

यह भी पढ़े: वाराणसी में सड़क धंसी, VDA ने फर्म के खिलाफ लगाया 50 लाख जुर्माना

फिलहाल मालवीय ब्रिज पर 25-30 की स्पीड से गुजरती हैं ट्रेनें

सिग्नेचर ब्रिज 1887 में बने वनारस के मालवीय पुल (राजघाट) के समानान्तर और नए इंटर मॉडल काशी स्टेशन को केंद्र में रखकर बनेगा। दो फ्लोर वाले वर्तमान मालवीय पुल में दो रेलवे ट्रैक और चार लेन की सड़क है। इस पर से औसत 25 से 30 की गति से ही ट्रेनें गुजरती हैं। चार साल में बनकर तैयार होने वाला नया ब्रिज मौजूदा राजघाट ब्रिज से ठीक दो गुना होने से एक समय में ज्यादा वाहन फर्राटा भर सकेंगे तो एक समय में अप और डाउन लेन से चार ट्रेनें तीन गुना ज्यादा रफ्तार से आ-जा सकेंगी।

यह भी पढ़े: पूर्व राष्ट्रपति के कान को शूटर की गोलियों ने कर दिया छलनी

ब्रिज बनने से पहले शहर में लागू होगा रूट डायवर्जन

सिग्नेचर ब्रिज के निर्माण से पूर्व पहले शहर में डायवर्जन लागू किया जाएगा। ट्रैफिक प्लानिंग व यूटिलिटी शिफ्टिंग प्लानिंग के लिए समितियों का गठन किया जाएगा। मंडलायुक्त कौशलराज शर्मा ने यातायात विभाग को रिपोर्ट तैयार करने का निर्देश दिया है, ताकि निर्माण के दौरान आमजन को किसी तरह की दिक्कत न होने पाए।

यह भी पढ़े: महाराष्ट्र में बीजेपी ने इंडी गठबंधन को दी सियासी पटखनी; नौ सीटों पर जमाया कब्जा

रोका जा सकता है राजघाट के ओर से वाहनों का आवागमन

सिग्नेचर ब्रिज के निर्माण के चलते राजघाट की तरफ से वाहनों का आवागमन रोका जा सकता है। ऐसे में वाराणसी से मुगलसराय जाने वाले वाहनों को बीएचयू, सामने घाट पुल से गुजारना होगा और उधर से आने वाले वाहनों को भी इसी रूट पर लाना होगा। इससे सामने घाट समेत बीएचयू लंका गेट पर भी यातायात काफी बढ़ जाएगा। ऐसे में ट्रैफिक कंट्रोल करना चुनौती होगी।

दरअसल, पुल निर्माण में लंबा समय लग सकता है। इतने लंबे समय तक रूट डायवर्जन को लागू कर सफल बनाना चुनौती है। ऐसे में अधिकारियों की टीम इस पर मंथन कर रही है। यातायात विभाग को सभी पहलुओं पर विचार कर अपनी रिपोर्ट पेश करने के लिए कहा गया है।

यह भी पढ़े: बरियासनपुर इण्टर कालेज में बच्चोँ का पठन पाठन रोक हुआ चन्दौली सांसद का स्वागत

वाराणसी में सड़क धंसी, VDA ने फर्म के खिलाफ लगाया 50 लाख जुर्माना

वाराणसी: के सारनाथ में प्रो-पुअर योजना के तहत 90 करोड़ रुपये से बन रही सारनाथ-बर्खपुर रोड बारिश में ध्वस्त हो गई। कुछ दिनों बाद ही सड़क जगह-जगह धंस गई और वाहन फंसने लगे। सड़कों पर बने गड्ढे को दुरुस्त करने वाले वाहनों के फंसने के बाद सरकारी तंत्र की जमकर फजीहत हुई। मामला आला अधिकारियों तक पहुंचा तो फर्म के खिलाफ कार्रवाई की गई।



वाराणसी विकास प्राधिकरण ने शहर के सौंदर्यीकरण में लापरवाही बरतने के मामले में केके कंस्ट्रक्शन कंपनी को जांच में दोषी पाया है। मुख्यमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल परियोजनाओं को जोड़ने वाली सड़क धंसने पर फर्म के खिलाफ नोटिस के बाद जुर्माना लगाया है।


वीडीए ने निर्माण कंपनी पर 50 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। वीडीए सचिव ने फर्म को एफआईआर दर्ज करने और ब्लैक लिस्ट क्यों न किया जाए का नोटिस दिया गया है। अब 24 घंटे में संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर विधिक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। वहीं एक कंपनी पर बड़ा जुर्माना और नोटिस के बाद अन्य निर्माण कंपनियों में हड़कंप मचा है।


वीडीए सचिव ने निरीक्षण के बाद लगाया जुर्माना

सारनाथ में नव निर्मित सड़क के अचानक धंसने के बाद वीडीए सचिव डॉ. वेद प्रकाश मिश्रा ने मौके पर जाकर निरीक्षण किया। उन्होंने बताया कि शनिवार को सड़क पर वाहन धंसने के स्थल का निरीक्षण किया गया था। कार्यदायी एजेंसी के अधिकारी भी मौके पर बुलाए गए और सड़क के हालात पर सवाल भी किए। सड़क की हालत देख उन्होंने अधिकारियों को फटकार लगाई।


जांच रिपोर्ट में दोषी मिले केके कंस्ट्रक्शन पर 50 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है। वीडीए ने फर्म को नोटिस देकर 24 घंटे में जवाब मांगा गया था। संतोषजनक जवाब न मिलने पर कठोर कार्रवाई की चेतावनी दी थी, 24 घंटे बीतने के बाद कार्रवाई की गई अब आगे की कार्रवाई की जाएगी। सचिव ने सड़क निर्माण कार्यों की जांच रिपोर्ट मांगी है।


वीडीए सचिव के अनुसार दरअसल जहां सड़क धंसी है। वहां नीचे सीवर और पेयजल लाइनें गई हैं। जिनमें लीकेज के चलते सड़क धंसने की समस्या आई है। पर्यटन विकास के लिए सारनाथ में प्रो पुअर योजना के तहत काम चल रहा है। बौद्ध मंदिरों को सारनाथ मुख्य चौराहे और संग्रहालय तक जोड़ने के तहत काम चल रहा है।

Friday, July 12, 2024

बरियासनपुर इण्टर कालेज में बच्चोँ का पठन पाठन रोक हुआ चन्दौली सांसद का स्वागत

वाराणसी: विकासच खण्ड चिरईगांव के बरियासनपुर इण्टर कालेज के प्रांगण में बुधवार को चन्दौली सांसद वीरेन्द्र सिंह का स्वागत किया गया। स्वागत समारोह में सांसद वीरेन्द्र सिंह ने कहा कि क्षेत्र के रुके विकास कार्यों को पूर्ण कराना ही हमारी जिम्मेदारी है।


यह भी पढ़े: बीस घंटे से भी ज्यादा समय के बाद भी ढाबक्षेत्र की बिजली आपूर्ति नहीं हो पायी शुरू, पूछने पर JE लोगो से ही मांगने लगे टाइम का हिसाब

उन्होंने कहा कि आप सभी को आश्वस्त करना चाहता हूं कि आप सभी के मिले सहयोग का हम हमेशा सम्मान करता रहूंगा। क्षेत्र के चतुर्दिक विकास के लिए हम सदैव तत्पर रहूंगा। कार्यक्रम में जिलापंचायत सदस्य रामधारी यादव, डा० अशोक सिंह, नरेन्द्र सिंह सहित कई ग्रामप्रधान, क्षेत्र पंचायत सदस्य आदि उपस्थित थे।


यह भी पढ़े: आज भी हड़ताल पर हाईकोर्ट के वकील, किसी की डेट लटकी तो किसी की बेल

पठन पाठन के समय हुआ स्वागत समारोह

बरियासनपुर इण्टर कालेज में चन्दौली सांसद बीरेन्द्र सिंह का स्वागत समारोह कार्यक्रम पठन पाठन के समय ही पूर्वान्ह ग्यारह बजे से अपरान्ह डेढ़ बजे तक किया गया।कार्यक्रम में सर्वाधिक विद्यालय के छात्र- छात्राएं ही उपस्थित रही।

यह भी पढ़े: नरसिंह दास निर्विरोध चुने गये वाराणसी नगर निगम के उपसभापति

इस बाबत जब जिला विद्यालय निरीक्षक अवध किशोर से दिशानिर्देश के बारे में पूछा गया तो कहे कार्यक्रम होने की सूचना हमें नहीं है।  उल्लेखनीय है कि बरियासनपुर इण्टर कालेज अशासकीय वित्तीय सहायता प्राप्त है। ऐसे में क्या इस प्रकार बच्चो के भविष्य के साथ यह खिलवाड़ सही है? 

यह भी पढ़े: चौबेपुर पुलिस ने हत्या के मामले मे वांछित अभियुक्त विजय यादव उर्फ विक्की को किया गिरफ्तार

बीस घंटे से भी ज्यादा समय के बाद भी ढाबक्षेत्र की बिजली आपूर्ति नहीं हो पायी शुरू, पूछने पर JE लोगो से ही मांगने लगे टाइम का हिसाब

वाराणसी: विकास खण्चिड चिरईगांव में बीते बुधवार को शाम चार बजे चली तेज हवा और बारिश से पूरे क्षेत्र की बिजली आपूर्ति ठप हो गयी। कुछ स्थानों पर तो रात में बिजली आपूर्ति बहाल हो गयी। लेकिन अधिकांश गांवों की बिजली रात में बहाल नहीं हो पायी। जाल्हूपुर उपकेन्द्र से जुड़े ढाबक्षेत्र के मोकलपुर, गोबरहां, रामपुर, चांदपुर, मुस्तफाबाद रेता, नेवादा की बिजली आपूर्ति गुरुवार को अपरान्ह दो बजे तक शुरू नहीं हो पायी।


यह भी पढ़े: आज भी हड़ताल पर हाईकोर्ट के वकील, किसी की डेट लटकी तो किसी की बेल

इन ग्रामसभाओं के रहने वाले लोगो ने देर शाम JE जल्हुपुर से इस सम्बन्ध में बात किया और उनसे जानकारी लेनी चाही तो साहब ने उलटे hi उनसे सवाल जबाब शुरू कर दिया कि बिजली दो बजे से बहल है लेकिन जब लोगों ने उनसे पूछ की कितनी देर बिजली रही तो साहब ने उनसे अगल ही टोन में बात करना शुरू कर दिया.

यह भी पढ़े: नरसिंह दास निर्विरोध चुने गये वाराणसी नगर निगम के उपसभापति

इसकी जानकारी होने पर जब हमारे संवाददाता ने JE साहब से फ़ोन पर संपर्क किया तो हमारे संवाददाता से भी JE का व्यव्हार वैसे ही था जैसे लोगो ने शिकायत किया था. JE ने बताया कि बिजली 2 से बहल है तो उनसे यह सवाल किया गया की कितनी देर रही है इसपर JE तिलमिलाकर उल्टा ही जबाब देने लगे. लेकिन शाम 7 बजे बिजली बहल हुई लेकिन पूरी रात बिजली का आना जाना लगा रहा.

यह भी पढ़े: चौबेपुर पुलिस ने हत्या के मामले मे वांछित अभियुक्त विजय यादव उर्फ विक्की को किया गिरफ्तार

क्षैत्रीय अवर अभियंता का कहना है कि कई स्थानों पर खम्भे टूट गये हैं। बिजली तार पर पेड़ की डालियां टूटकर गिरी हैं। उसको ठीक करवाया जा रहा है। चिरईगांव प्रथम फीडर से जुड़े गांवों की विद्युत आपूर्ति लगभग 17 घंटे बाद शुरु हुयी। बिजली के अभाव में पेयजल आपूर्ति भी ठप हो गयी। पीएचसी चिरईगांव पर भी बिजली आपूर्ति देर तक नहीं होने से लगा इन्वर्टर जबाब दे दिया। बिजली के आने जाने का सिलसिला जारी रहा।

यह भी पढ़े: जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह ने नदेसर हुए हमले में लगाया विधायक अभय सिंह-विनीत सिंह पर आरोप

आज भी हड़ताल पर हाईकोर्ट के वकील, किसी की डेट लटकी तो किसी की बेल

प्रयागराज : इलाहाबाद हाईकोर्ट में शुक्रवार 12 जुलाई को भी न्यायिक कामकाज नहीं होगा. हाईकोर्ट के वकील आज भी हड़ताल पर रहेंगे. 


यह भी पढ़े: नरसिंह दास निर्विरोध चुने गये वाराणसी नगर निगम के उपसभापति

इलाहाबाद हाईकोर्ट के वकील अपनी तमाम मांगों को लेकर आज लगातार तीसरे दिन भी हड़ताल पर हैं. वकील आज भी कोई कामकाज नहीं करेंगे. 

यह भी पढ़े: चौबेपुर पुलिस ने हत्या के मामले मे वांछित अभियुक्त विजय यादव उर्फ विक्की को किया गिरफ्तार

मुकदमों की लिस्टिंग समेत अन्य विसंगतियों को दूर करने की मांग को लेकर हड़ताल  हाईकोर्ट के वकील, बुधवार और गुरुवार को भी हाईकोर्ट में न्यायिक कामकाज पूरी तरह से ठप रहा. 

यह भी पढ़े: जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह ने नदेसर हुए हमले में लगाया विधायक अभय सिंह-विनीत सिंह पर आरोप

अधिवक्ताओं ने गुरुवार दोपहर के वक्त अलग-अलग गेट पर इकट्ठे होकर प्रदर्शन भी किया है. तमाम मुकदमों में तारीख लग गई है. हाईकोर्ट के साथ ही आज जिला कोर्ट के वकील भी हड़ताल पर हैं. हाईकोर्ट बार एसोशिएसन ने हड़ताल पर रहने का फैसला लिया है.  

यह भी पढ़े: भाजपा सांसद और प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी को भी नहीं बख्शा चोरों ने, लखनऊ आवास पर हुई चोरी

Thursday, July 11, 2024

नरसिंह दास निर्विरोध चुने गये वाराणसी नगर निगम के उपसभापति

वाराणसी: नगर निगम में सम्पन्न हुये उपसभापति चुनाव में नरसिंह दास को निर्विरोध उपसभाति चुना गया। नगर निगम के कार्यकारिणी कक्ष में अपराह्न 12 बजे महापौर अशोक कुमार तिवारी की अध्यक्षता में उपसभापति के चुनाव की प्रक्रिया प्रारम्भ की गयी। चुनाव प्रक्रिया प्रारम्भ होने पर निर्धारित समय में नामांकन की प्रक्रिया प्रारम्भ की गयी। वरिष्ठ पार्षद एवं कार्यकारणी सदस्य श्याम आसरे मौर्य ने उपसभापति के लिये नरसिंह दास का नाम प्रस्तावित किया.


यह भी पढ़े: चौबेपुर पुलिस ने हत्या के मामले मे वांछित अभियुक्त विजय यादव उर्फ विक्की को किया गिरफ्तार

जिस पर माहापौर के द्वारा उपस्थित सभी कार्यकारिणी के सदस्यों से अनुमोदन हेतु प्रास्ताव माॅगा गया। उपस्थित सभी कार्यकारिणी के सदस्यों द्वारा अपनी सहमति व्यक्त करते हुये नरिसंह दास का समर्थन किया गया, तत्पश्चात निर्धारित समय के पश्चात महापौर के द्वारा उपसभापति के पद हेतु नरसिंह दास के नाम की घोषणा की गयी, जिस पर सभी लोगों ने मेज थपथपा कर स्वागत किया गया। निर्विरोध उपसभापति चुने जाने के बाद महापौर के द्वारा माल्यार्पण कर नव निर्वाचित उपसभापति का सम्मान किया गया, 

यह भी पढ़े: जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह ने नदेसर हुए हमले में लगाया विधायक अभय सिंह-विनीत सिंह पर आरोप

उसके बाद सभी कार्यकारिणी के सदस्यों के द्वारा माल्यार्पण स्वागत किया गया। नये उपसभापति नरसिंह दास के द्वारा अपने सम्बोधन में महापौर को धन्यवाद ज्ञापित किया गया तथा कहा गया कि नगर निगम के चुने हुये सभी पार्षदगण, महापौर, समस्त अधिकारी एवं समस्त कर्मचारी नगर निगम को अपना समझ कर कार्य करें, कार्य को हमेशा सकारात्मक दृष्टि से किया जायेगा तो बड़ा से बड़ा कार्य करने में नगर निगम सफल होगा। नगर निगम हमेशा प्राकृतिक, दैनिक कार्यो को बहुत मनोयोग के साथ करता है, कार्याे की गुणवत्ता बनी रहती है। 

यह भी पढ़े: भाजपा सांसद और प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी को भी नहीं बख्शा चोरों ने, लखनऊ आवास पर हुई चोरी

उपसभापति के द्वारा अपने उद्बोधन में अपने बीस पच्चीस वर्षो के अनुभव के आधार यह भी कहा गया कि अन्य विभागों से इतर नगर निगम हमेशा चुनौतीपूर्ण कार्य करता रहा है। अन्त में उपसभापति के द्वारा सभी को धन्यवाद ज्ञापिंत किया गया। चुनाव प्रक्रिया का संचालन संयुक्त नगर आयुक्त कृष्ण चन्द के द्वारा किया गया। उपसभापति के चुनाव के समय कार्यकारिणी कक्ष में कार्यकारिणी सदस्य के सभी पार्षदगण, नगर आयुक्त अक्षत वर्मा, अपर नगर आयुक्त दुष्यन्त कुमार मौर्य, सविता यादव, संयुक्त नगर आयुक्त कृष्ण चन्द, मुख्य नगर लेखा परीक्षक संजय प्रताप सिंह, मुख्य कर निर्धारण अधिकारी राकेश कुमार सोनकर, कार्यालय अधीक्षक शश्किान्त प्रसाद, पी0आर0ओ0 संदीप श्रीवास्तव आदि उपस्थित थे।

यह भी पढ़े: स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक ने लापरवाही और लंबे समय से ड्यूटी से नदारद रहने गंभीर आरोप में 17 चिकित्सा अधिकारियों को किया बर्खास्त  

चौबेपुर पुलिस ने हत्या के मामले मे वांछित अभियुक्त विजय यादव उर्फ विक्की को किया गिरफ्तार

वाराणसी: पुलिस आयुक्त के अपराधों की रोकथाम एवं वांछित/फरार अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु चलाये जा रहे अभियान के क्रम में पुलिस उपायुक्त वरुणा ज़ोन के निर्देशन मे अपर पुलिस उपायुक्त वरुणा ज़ोन के पर्यवेक्षण मे सहायक पुलिस आयुक्त सारनाथ के नेतृत्व में थाना चौबेपुर पुलिस टीम द्वारा मुखबिर की सूचना पर मु00सं0-362/2024 धारा 302,201,34 भा00वि0 थाना चौबेपुर कमि0 वाराणसी से सम्बन्धित वांछित अभियुक्त विजय यादव उर्फ विक्की पुत्र राधे यादव निवासी ग्राम तिलेसरा थाना विरनो जनपद गाजीपुर को दिनांक-11.07.2024 को समय करीब 12.45 बजे ढकवा तिराहा थाना चौबेपुर से गिरफ्तार किया गया उक्त के सम्बन्ध में थाना चौबेपुर पुलिस द्वारा आवश्यक विधिक कार्यवाही की जा रही है 


यह भी पढ़े: भाजपा सांसद और प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी को भी नहीं बख्शा चोरों ने, लखनऊ आवास पर हुई चोरी

दिनांक 17.06.2024 को वादी मुकदमा प्रदीप कुमार यादव पुत्र स्व0 मुसाफिर यादव निवासी ग्राम पोस्ट तिलेसड़ा थाना बिरनो जिला गाजीपुर ने लिखित प्रार्थना पत्र दिया कि उनके बड़े भाई आलोक यादव पुत्र स्व0 मुसाफिर यादव जो करीब 06 वर्ष बाद 3 मार्च को सऊदी अरब से घर आये थे और शादी के बाद से ही वो घर रह रहे थे दिनांक 09-06-2024 की शाम को विजय यादव उर्फ विक्की के मशीन पर पार्टी रखी गई थी जिसमें उनके भाई आलोक यादव, रोहित यादव 3-4 अन्य लोग भी शामिल थे, वहाँ से उनके भाई देर रात करीब 01 बजे घर आये थे दिनांक 10-06-2024 को सुबह उनके भाई आलोक यादव ने उन्हे बताया कि शाम को हम लोग (विजय यादव उर्फ विक्की यादव रोहित यादव जो दोस्त पार्टी में शामिल थे) घुमने के लिए लखनऊ जाएंगे और उसी शाम 6 बजे के करीब वह घर से निकले और विजय उर्फ विक्की के घर गये, वहां पार्टी में शामिल अन्य लोग कार लेकर आये थे फिर वहां से सभी लोग साथ घूमने के लिए चले गये। वादी ने शाम 08.10 बजे के करीब उन्हे फोन किया तो उनसे बात हुई थी और उसी शाम को उनकी भाभी प्रतिभा यादव से भी उनके भाई आलोक की करीब 09.30 बजे फ़ोन पर बात हो रही थी कि तभी उनके साथ वाले दोस्तों ने आलोक का फोन रखवा दिया सुबह वादी अन्य परिवार के लोगों ने आलोक के नंबर पर फोन किया तो बंद बता रहा था जब आलोक यादव दिनांक 10-06-24 को गए तो बताये थे कि वे दिनांक 12-06-24 को शाम या देर रात तक घर वापस जाएंगे लेकिन फिर वे दिनांक 12-06-24 को घर नहीं आये और ही किसी प्रकार से फोन से उनसे सम्पर्क हो पाया तो फिर मुकदमा वादी ने विजय यादव उर्फ विक्की के मोबाइल पर फोन किया और अपने भाई से बात कराने को बोला तो बात नहीं कराया और पार्टी में कौन-कौन शामिल थे यह भी पुछने पर नहीं बताया और ना ही किसी का नंबर दिया। वादी ने किसी तरह से रोहित यादव का मोबाइल नंबर प्राप्त किया जिससे व्हाट्सअप पर विडियो काल पर बात हुई लेकिन वह भी उनके भाई के बारे में पुछने पर कोई संतोष जनक जवाब नहीं दिया और जब वादी ने उसके सम्बन्ध में उसके पिता से पुछा तो वो भी कुछ नही बताये, रोहित के पड़ोस वाले बताये कि रवि यादव से रोहित यादव के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते है जो उसका रिश्तेदार है रवि यादव के यहाँ पहुंचकर उससे भाई के बारे मे पूछा तो सही जवाब नही दिया और डाटकर भगा दिया फिर वादी वहाँ से अपने थाना बिरनो में अपने भाई की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने गये तो थाने पर तीन-चार अज्ञात मृतक की फोटो दिखाया गया जिसमें से एक की पहचान उन्होंने अपने भाई के रूप मे किया तो वहाँ से वादी को बताया गया कि ये लाश चौबेपुर थानाक्षेत्र में मिली है फिर वहाँ से सीधे चौबेपुर थाने पर आए और यहाँ से शिवपुर पोस्टमार्टम घर पहुंचे और अपने भाई आलोक यादव की पहचान की, तत्पश्चात वादी मुकदमा/पीड़ित ने उनके भाई की हत्या विजय यादव उर्फ विक्की, रोहित यादव रवि यादव एवं कुछ अज्ञात लोगो के द्वारा किये जाने के संबंध मे दिए गये लिखित प्रार्थना पत्र के आधार पर थाना चौबेपुर मे मु00सं0-362/2024 धारा 302/201/34 भादवि पंजीकृत किया गया, जिसकी विवेचना प्र0नि0 विद्याशंकर शुक्ल द्वारा संपादित की जा रही है

यह भी पढ़े: स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक ने लापरवाही और लंबे समय से ड्यूटी से नदारद रहने गंभीर आरोप में 17 चिकित्सा अधिकारियों को किया बर्खास्त  

अभियुक्त विजय यादव उर्फ विक्की ने पूछताछ करने पर बताया कि रोहित यादव तथा रवि यादव हमारे मित्र हैं इनका हमारे यहां आना-जाना रहता है सप्ताह में एक दो बार इनका मछली,बाटी दारु की दावत होती है जिसका खर्च रोहित ही उठाता है मेरे गांव तिलेसडा का आलोक यादव पुत्र मुसाफिर हमलोगों के साथ रहता था दावत दारु पीने हम सब साथ-साथ ही जाते थे आलोक तथा रोहित यादव मे कई बार विवाद हुआ था एक दिन रोहित यादव ने हमसे बताया कि एक लडकी से उसका प्रेम प्रसंग चल रहा है उसी लडकी से आलोक यादव भी प्रेम करता है, मै मना करता हूँ फिर भी आलोक मान नहीं रहा है तो उसको रास्ते से हटाना है दिनांक-09.06.2024 को मेरे मशीन पर दावत का कार्यक्रम रखा गया था जिसमे आलोक यादव, रोहित, रवि और मै हम सभी लोगो ने खाना खाया दारु पिए और उसी दौरान उसी प्रेम प्रसंग को लेकर आलोक रोहित में विवाद हुआ था तो हम लोगो ने समझाया बुझाया तभी हमारा, रोहित रवि का प्लान बना कि दिनांक-10.06.2024 को लखनऊ चलने के बहाने आलोक को ले चलकर उसका रास्ते में काम तमाम किया जायेगा और फिर हम लोगों  ने आलोक को दिनांक 10.06.2024 को शाम को घूमने का प्लान बताया तो वह तैयार हो गया दिनांक 10.06.2024 को समय करीब 06 बजे आलोक यादव अपने घर से तैयार होकर लखनऊ घूमने चलने के लिये गया मैं, आलोक, रोहित रवि यादव सभी दारु पीकर फिर साथ में इनवा चौराहे की तरफ चल दिये जहां रोहित द्वारा चार पहिया गाडी मंगवाकर करीब 08.00 बजे उसी गाडी में बैठकर हम चारों लोग लखनऊ के लिये चले थे समय करीब 11 बजे रात मे हमलोग सिधौना से आगे गोमती नदी पार करके भदहां गांव के करीब हाईवे से उतर कर बबुराही की तरफ ले जाकर गाडी से उतरकर दारु पीने के लिये चारो लोग बबुराही में बैठकर दारु पीये और जब नशा चढ़ गया तब रोहित यादव ने तमन्चे से आलोक यादव को एक कनपटी पर और एक मुंह पर गोली मार दिया हमलोग उसकी लाश को वही बगल गढ्ढे मे करके वहाँ से चल दिये रोहित गाडी से लाकर मुझे अपने गांव छोड़कर तथा वह और रवि यादव अपने-अपने गांव चले गये थे तमन्चा रोहित यादव के ही पास है और तब से मै इधर-उधर लूक छिपकर रह रहा था 

यह भी पढ़े: जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह ने नदेसर हुए हमले में लगाया विधायक अभय सिंह-विनीत सिंह पर आरोप

गिरफ्तारी करने वाली पुलिस टीम में प्र0नि0 विद्याशंकर शुक्ल थाना चौबेपुर कमिश्नरेट वाराणसी, हे0का0 बृजेश पाण्डेय थाना चौबेपुर कमिश्नरेट वाराणसी, हे0का0 कृष्णानन्द पाण्डेय थाना चौबेपुर कमिश्नरेट वाराणसी  

यह भी पढ़े: जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह ने नदेसर हुए हमले में लगाया विधायक अभय सिंह-विनीत सिंह पर आरोप